नमस्कार दोस्तों ! Best My Smart Tips Blog में आपका स्वागत है। जब भी बात आती है प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीखने की या एक प्रोग्रामर बनने की तो सबसे पहले यही सवाल दिमाग में आता है कौन सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीखनी चाहिए आज टेक्नोलॉजी के वक्त में बहुत सारी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज हैं इसे सीखकर आप एक  डेवलपर बन सकते हैं । बात अगर  बेव डेवलपर की करे तो बेव के डेवलपर बनने के लिए जो सबसे जरूरी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है वह है PHP । बिना PHP लैंग्वेज सीखे आप वेब डेवलपर फिल्ड में आधा अधूरा ज्ञान लेकर  लेकर घूमेंगे और ज्यादा सफलता हासिल नहीं कर पायेगे तो आज के इस लेख में हम जानने  वाले हैं PHP क्या हैं और इसका इस्तेमाल कहां किया जाता है इस लैंग्वेज को कैसे सीखे और कहां से सीखे PHP का पूरा नाम क्या है और इसका इतिहास क्या है ? इन सभी विषयों पर आज हम इस लेख में चर्चा करने वाले हैं इसलिए सपने को पूरा जरूर पढ़ें और अधिक से अधिक लोगों तक शेयर करें।।

PHP language क्या होती है ?

PHP क्या हैं ? (What is PHP)

PHP का पूरा नाम  -  Hypertext preprocessor  (हाइपरटेक्स्ट पूर्वप्रक्रमक) हैं । ये दुनिया का एकमात्र ओपन सोर्स स्क्रिप्टिंग भाषा (open source scripting  language) हैं इसका उपयोग वेबसाइट डिजाइन करने के लिए किया जाता है PHP language एक सर्वर स्क्रिप्ट प्रोग्रामिंग लैंग्वेज ( sever scripting programming language) हैं क्योंकि ये भाषा सर्वर में निष्पादित (execute) होती हैं इसमें भी C,C++ और जावा जैसे कोड में लिखा जाता है। कोड या प्रोग्राम कंप्यूटर के अंदर निष्पादित (execute) होते हैं

बात की जाए पीएचपी भाषा की इसको वेबसाइट बनाने में इस्तेमाल किया जाता है इसलिए पीएचपी भाषा को web based programming language भी बोलते हैं इस भाषा को आप मुफ्त में इस्तेमाल कर सकते हो ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म को चलाने के लिए बहुत ही शक्तिशाली भाषा है जैसे आपने वर्डप्रेस का नाम सुना ही होगा इसको इस भाषा से ही डिजाइन किया गया है वर्डप्रेस प्लेटफार्म से दुनिया की बहुत बड़ी - बड़ी  बेवसाइट संचालित की जाती है।

PHP का मतलब क्या है और इसको कहां इसको उपयोग किया जाता है ?

आप ही समझ गए होंगे कि यह कितनी शक्तिशाली भाषा हैं क्योंकि इस भाषा से दुनिया की सबसे अधिक खोले जाने वाली वेबसाइट को डिजाइन किया जाता है । जिसके नाम से आप अच्छे से परिचित हो "Facebook. Com ". PHP (हाइपरटेक्स्ट पूर्वप्रक्रमक ) एक सर्वर स्क्रिप्ट प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है। ये एक ओपन सोर्स जनरल पर्पस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज भी हैं इस भाषा को बेव डेवलपमेंट के लिए उपयोग किया जाता है PHP भाषा को HTML के साथ अंतर्निहित (embedded) करके उपयोग किया जाता है इसकी वजह से इसमें नये फीचर्स को जोड़ा जा सकता है इस भाषा की खासियत है गतिशील वेबसाइट (Dynamic website) को डिजाइन करने के लिए उपयोग किया जाता है जब एक उपयोगकर्ता (user) अपने ब्राउज़र में PHP web page की रिक्वेस्ट भेजता है  जिसमे एक  कोड रहता है ये पीएचपी कोड वेब सर्वर में php मॉड्यूल स्थापना( module installed)  हैं।उसके अंदर प्रक्रिया में होता है पीएचडी प्री प्रोसेसर एचटीएमएल आउटपुट उत्पन्न ( PHP preprocessor  HTML Output generate ) करता है जिसको आप अपने वेब ब्राउज़र में दिखते हो

चलिए अब जानते हैं वेब पेज कितने प्रकार के होते हैं और पीएचडी कौन से बेव काम करता है आपने ऊपर लेख में कुछ ऐसे टेक्निकल शब्दों को देखा होगा इन शब्दों के बारे में पहले हम थोड़ा समझ लेते हैं जिसके बाद PHP language के बारे में पूरी जानकारी समझने में आसानी होगी. 

HTML और HTML5 क्या हैं ? HTML5 की विशेषताएं। पूरी जानकारी

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या होती हैं ?

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज एक प्रकार की भाषा होती है जैसी हम और आप आपस में बात करते हैं लेकिन कंप्यूटर जो भाषा समझता है या यह कह सकते हैं जिस भाषा जरिए आप कंप्यूटर के साथ संवाद (communicate) कर सकते हो वही कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज हैं । इन प्रोग्रामिंग भाषा से कंप्यूटर के अंदर जो सॉफ्टवेयर या वेबसाइट होते हैं इनको बनाने के लिए  उपयोग किया जाता है C ,C++, PHP ,HTML ,Java COBOL ये एक प्रोग्रामिंग भाषा हैं इन भाषा से ही प्रोग्राम लिखे जाते हैं

सामान्य प्रयोजन प्रोग्रामिंग भाषा (general purpose programming language)

कम्यूटर सॉफ्टवेयर के दृष्टिकोण से सामान्य प्रयोजन प्रोग्रामिंग भाषा (general purpose programming language) को अलग-अलग तरह के सॉफ्टवेयर बनाने के लिए उपयोग किया जाता है अलग-अलग डोमेन के लिए अलग-अलग भाषा की आवश्यकता होती है

यहां पर डोमेन का अर्थ है आप अगर केलकुलेटर सॉफ्टवेयर बनाना चाहते हो कंप्यूटर के लिए । तो आप जावा या  C++ का उपयोग करके बना सकते हो लेकिन अगर आप एक वेबसाइट बनाना चाहते हो तो वहां पर आप पीएचपी भाषा या HTML भाषा का उपयोग करोगे इसलिए इन भाषा को डोमेन विशिष्ट भाषा भी कहते है

Scripting language 

ये भी एक प्रोग्रामिंग भाषा  का एक category है जैसे कुछ भाषाओं को पहले संकलन (compile)   किया जाता है उसके बाद ही वो रन होते हैं लेकिन इस स्क्रिप्टिंग भाषा को बिना संकलन (compile) किए भी रन करा सकते हैं स्क्रिप्ट में प्रोग्राम या बहुत सारे अनुदेश (instruction) होते हैं जो की वेब ब्राउज़र या वेब सर्वर में निष्पादित (execute) होते हैं PHP ,python, perl ये सभी एक प्रकार की scripting भाषा होती है

वेब ब्राउज़र क्या है ?

Static web page 

Static web page नाम देखकर ही आप समझ गए होंगे कि ये एक ऐसा पेज है जहां सारे पेज फिक्स्ड होते हैं जिनको कोई सामान्य उपयोगकर्ता परिवर्तन नही कर सकता हैं ये Static web page हर पुराने और नए उपयोगकर्ता के लिए एक जैसा ही होता है जिनमें आप परिवर्तन नहीं कर सकते हैं आप जब भी वेबसाइट खोलते हैं और आपने देखा होगा जिनके विषय कभी नहीं बदलते है वो हर पेज  किसी के लिए एक जैसा दिखाई देता है लेकिन कुछ साइट ऐसी है जैसे-"Facebook. Com " जिनके पेज के विषय  हर वक्त बदलते रहते हैं और अलग-अलग उपयोगकर्ता के लिए अलग-अलग वेबपेज होते हैं

दोस्तों हमने यहां पर आपको कुछ Static web page  उदाहरण है । example = about us page और content page जिनके विषय (content) कभी भी नहीं परिवर्तित होते है उम्मीद करते हैं कि आप को Static web page को समझने में आसानी हो गयी होगी।

Dynamic web page 

अगर आप Static web page को अच्छे से समझ गए हैं तो Dynamic web page को समझने में आपको ज्यादा परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा आप इसे बड़ी आसानी से समझ जाओगे क्योंकि Dynamic web page विषय ( content)हमेशा बदलते रहते हैं यहां पर हर उपयोगकर्ता के लिए जो पेज ओपन होंगे वो मेरे लिए कुछ और होंगे उदाहरण के लिए अगर मैं अपना फेसबुक  जब लॉगिन करता हूं तो मेरा फेसबुक पेज पर फेसबुक पेज से बिल्कुल अलग होगा

Dynamic का अर्थ है variable या changeable जो पेज बार-बार परिवर्तित होते रहते हैं वैसे आपको हम एक उदाहरण और देते हैं जिसके जरिए आप इसे अच्छे से समझ पाएंगे शॉपिंग साइट के पेज भी उपयोगकर्ता के लिए बदलते रहते हैं क्योंकि आज जो कुछ भी सर्च करते होंगे लेकिन मैं कुछ और पेज शॉपिंग पेज ओपन कर सकता हूं ये दोनों Dynamic web page के एक अच्छे उदाहरण है दोस्तों अगर आप PHP भाषा सीखना चाहते हैं और अपनी पसंद की वेबसाइट बनाना चाहते हैं तो हम आपको आगे बताने वाले हैं कि आप पीएचपी लैंग्वेज कैसे सीख सकते हैं और कहां से सीखे.

PHP लैंग्वेज कैसे और कहां से सीखे ?

आज की युवा छात्र और बिजनेसमैन हर कोई स्वंय की एक वेबसाइट बनाना चाहता है लेकिन उस व्यक्ति में नॉलेज की कमी के कारण वह स्वयं की वेबसाइट नहीं बना पाता वैसे तो आपको इंटरनेट में बहुत सारे वेब डेवलपर जाएंगे लेकिन आपकी वेबसाइट बनाने के लिए वह आपसे पैसे लेंगे और वो भी कम से कम 30000 से 200000 रुपए तक । अगर आप दूसरों के लिए वेबसाइट बनाना चाहते हो और कुछ पैसे कमाना चाहते हो तो आपके लिए बहुत जरूरी है कि आप पीएचपी भाषा  सीख ले । चलिए अब बात करते हैं पीएचपी भाषा को सीखने के लिए कितनी पढ़ाई  पर्याप्त है।

गूगल सर्च इंजन में ब्लॉग रैकं कैसे बढाये

न्यूनतम योग्यता वेब डिजाइनिंग सीखने के लिए

वैसे तो पीएचपी भाषा को सीखना बहुत ही आसान है अगर आपका यह सवाल है कि पीएचपी भाषा को सीखने से पहले कुछ और भी सीखना पड़ेगा तो इसका जवाब है लगभग बिल्कुल नहीं आपको  सिर्फ PHP documentary को पढ़ कर अच्छे से फॉलो करना है अगर आपको पीएचपी भाषा को अच्छे से समझना है तो आप को HTML, Java, C ,CSS ,C++ की पूरी नॉलेज जानकारी होना अति आवश्यक है।

मैं आपको कुछ ऐसी वेबसाइट  शेयर कर रहा हूं जिनकी सहायता से आप आसानी से php भाषा सीख सकते हो

1:http://www.hackingwithphp.com/

2:http://www.tizag.com/phpT/http://www.tutorialspoint.com/php/

3:https://devzone.zend.com/6/php-101-php-for-the-absolute-beginner/

4:http://stoneriverelearning.com/course

5:अगर आप यूट्यूब के माध्यम से पीएचपी भाषा को सीखना चाहते हैं तो उसके लिए हमने आपको एक लिंक दे रखा है इस लिंक पर क्लिक करके आप यूट्यूब चैनल के माध्यम से पीएचपी भाषा सीख सकते हैं https://www.youtube.com/results?search_query=php+tutorial+in+hindi चलिए अब PHP भाषा इसका इतिहास जानते हैं

वेब डिजाइनर कैसे बनें?।।

PHP भाषा का इतिहास क्या है ?

यह एक वेब बेस्ड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसको साल 1995 में रैसमस लेरडॉर्फ़ ने बनाया था उन्होंने सर्वप्रथम एक प्रोग्राम लिखा जिसका नाम  Common Gateway Interface (CGI)  था इस प्रोग्राम को लिखने के लिए सी भाषा का इस्तेमाल किया गया इस प्रोग्राम के जरिए उन्होंने अपना पर्सनल होम पेज बनाना इसमें खास दिलचस्पी होने के कारण वो वेब पेज बनाने  अपना डेटाबेस का उपयोग किया तब तब इस भाषा का नाम का कारण बना वो नाम था पर्सनल होम पेज /फॉर्म इंटरप्रेटर या PHP/IF कहां जाने लगा.

Dynamic web page को डिजाइन करने के लिए पीएचपी भाषा का उपयोग किया गया था इस भाषा की सहायता से एक टूल विकसित किया गया था जिसका नाम home page 1.0.2013 तक बहुत सारे नये फीचर्स इस में जोड़े गये । पीएचपी भाषा HTML अंतर्निहित ( embedded) बनाया गया और धीरे-धीरे ये पीएचपी भाषा दुनिया की बड़ी- बड़ी वेबसाइट को बनाने लग गयी ।

SEO क्या हैं ?अपने blog में इसका इस्तेमाल कैसे करें

PHP भाषा की खासियत क्या है ?

वैसे तो पीएचपी भाषा के बहुत सारे फीचर्स हैं लेकिन हम कुछ ही फीचर्स के बारे में चर्चा करेंगे

1: इस पीएचपी भाषा के जरिए आप किसी भी फाइल को व्यवस्थित तरीके से create ,open ,read और लिख भी सकते हैं

2: पीएचपी भाषा के जरिए जो ऑनलाइन फॉर्म भरते हैं उनको नियंत्रित कर सकते हैं जैसे एक  फाइल से डेटा को extract करना डाटा को फाइल के भीतर सेव करना ईमेल के माध्यम से डाटा किसी को भी भेजना

3: पीएचपी भाषा के जरिए डेटाबेस में जो भी तत्व है उनको संशोधित, हटाना, एडिट करना  

4: पीएचपी भाषा के जरिए आप कुछ पेज को restrict कर सकते हैं।

निष्कर्ष

उम्मीद करते हैं कि आपको पीएचपी भाषा के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त हो गई होगी आपको यह जानकारी कैसी लगी कमेंट करके अवश्य बताएं है अगर आपके कोई सवाल है तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं।।