नमस्कार दोस्तों my smart tips Blog आपका  स्वागत हैं । इंटरनेट ने आपकी और हमारी जिंदगी को काफी आसान बना दिया है या कहें पूरी तरह से बदल दिया है क्योंकि यहां पर आपको पढ़ाई से लेकर जॉब तक, ब्लॉग से लेकर न्यूज़ तक हर तरह की जानकारी तुरंत मिल जाती है पर क्या आप जानते हैं जिस इंटरनेट के बिना हम अपना कोई काम नहीं कर सकते उस इंटरनेट की एक डार्क साइड भी है जहां पर आप की एक गलती आपको बहुत बड़े खतरे में डाल सकती है आज के इस आर्टिकल में हम जानने वाले हैं डार्क वेब क्या है और कैसे यूज करने से आपको क्या खतरा है ? डार्क वेब का इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं? डार्क वेब के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़े।।

Dark web kya hai

डार्क बेव क्या हैं ?

इंटरनेट को आप जितना आसान समझते हैं यह उतना आसान है नहीं बल्कि उससे कहीं ज्यादा जटिल है इंटरनेट या बेव को तीन भागों में बांटा गया है

1: surface web

2: deep web 

3: dark web

1:Surface web क्या होता हैं ?

जितना इंटरनेट आप एक्सेस करते हैं वह पूरे इंटरनेट का सिर्फ 4% होता है और इसको  surface web कहते हैं यानी जो भी आप गूगल युटुब में सर्च करते हैं और कितना कॉन्टैक्टर लाखों वेबसाइट में देखते हैं वह सब इस 4% के अंतर्गत आता है. Surface web को clear net भी कहा जाता है.

2:deep web क्या होता है ?

यह इंटरनेट का वह हिस्सा है जो सर्च इंजन से छिपा हुआ होता है यहां ऐसी वेबसाइट होती हैं जो आपको गूगल या दूसरे सर्च इंजन में नहीं मिलेगी, जैसा कि आपकी बैंक डिटेल, किसी कंपनी का प्राइवेट डाटा , इत्यादि इनको एक्सेस करने के लिए आपको एक लिंक और एक यूजरनेम तथा पासवर्ड की जरूरत होती है कोई भी अन्य व्यक्ति यहां तक नहीं पहुंच पाता । 

3:dark web क्या होता है ?

डार्क वेब एक इंटरनेट की वो काली दुनिया है जहां online drugs की selling और hacking और सभी प्रकार के गैर कानूनी काम होते हैं यहां पर ऐसी वेबसाइट और लिंक होते हैं जिन्हें आप अपने ब्राउज़र में भी नहीं खोल पाएंगे डार्क बेव की वेबसाइट कुछ स्पेशल ब्राउज़र से ही एक्सेस होती है रिसर्च के अनुसार इंटरनेट का केवल 4% ही general public को visible होता है जिसे surface web कहा जाता है और इंटरनेट का 96% क्षेत्र dark web के अंतर्गत आता है dark web में ऐसे मे ऐसी वेबसाइट होते है जोकि public को visible नहीं होती क्योंकि उनके IP address (internet protocol address) जानकारी को जानबूझकर छिपाया जाता है और और ऐसी वेबसाइटों को कुछ स्पेशल टूल्स के माध्यम से आप देख सकते हैं लेकिन इनके सर्वर जानकारी  को खोज पाना नामुमकिन है और  इन्हे पूरी तरह से ट्रैक(trak) कर पाना भी बहुत मुश्किल कार्य है.

कुछ ऐसे स्पेशल टूल्स है  जिनकी मदद से आप dark web तक पहुंच सकते हैं उनमें से मुख्य टूल्स Tor और I2P हैं । यह dark web बहुत ही पॉपुलर होता है दोनों काला बाजार (black market) और उपयोगकर्ता सुरक्षा (user protection) वाले लोगों के लिए इसलिए इन दोनों में सकारात्मक (positive) नकारात्मक (negative) पहलू (aspects )भी होते हैं

वेब डिजाइनर कैसे बनें?।।

डार्क नेट बाजार (darknet markets) क्या होते है ?

वो उद्योग जोकि डार्क वेब में  ही संचालित (operate) होते हैं उन्हें ही डार्क नेट बाजार कहा जाता है इनमें बहुत से गैरकानूनी उत्पादों कि काला बाजारी भी होती है.वही बाल तस्करी (child trafficing) सरकार के रहस्य ,defects secrets इत्यादि काम यहां होते हैं जिनका सरकार और law enforcement agencies (कानून प्रवर्तन एजेंसी) विरोध करती है.

वही यहां पर सभी प्रकार के guns ,drugs, चोरी के पैसे , चुरायी  गई subscription credentials, सभी हैक किए गए नेटफ्लिक्स खाते और सॉफ्टवेयर जो कि आपकी सहायता करते हैं किसी कंप्यूटर को हैक करने में.

डार्क बेव कैसे काम करता है ?

डार्क वेब का कार्य करने का ढंग पूरी तरह से अलग है सामान्य वेबसाइट के मुकाबले आपका डार्क वेब की वेबसाइटों को एक्सेस नहीं कर सकते हैं इन सामान्य वेब ब्राउज़र जैसे कि google, yahool ,chrome, safari, Mozilla, Firefox, इत्यादि से एक्सेस नहीं कर सकते हैं।

dark web ऐप का इस्तेमाल करने के लिए आपको स्पेशल टूल्स की आवश्यकता पड़ेगी जैसे कि Tor . केवल इसी tools की सहायता से आप dark web की वेबसाइट को एक्सेस कर सकते हैं. अपने सिस्टम में ।  वॅही डार्क वेबसाइट के extension बहुत ही अलग होते हैं जैसे कि .onion जोकि अत्यधिक एन्क्रिप्टेड डोमेन नाम होता हैं। इनका इस्तेमाल dark website वेबसाइट के लिए किया जाता है

वेब ब्राउज़र क्या है ?

डार्क बेव तक पहुंचने के लिए आपको कुछ चीजो का पालन करना होगा। 

1: सबसे पहले आपको एक security VPN service की आवश्यकता पड़ेगी जो कि आपकी पहचान को दूसरों से protect करे क्योंकि dark web की वेबसाइट ज्यादा सुरक्षित नहीं होती है और dark web की वेबसाइट में हमेशा हैकर घूम रहे होते हैं इसलिए अपने डेटा को सुरक्षित रखने के लिए आपको अपने सिस्टम में security VPN service का यूज करना चाहिए आप इन nord VPN, storage VPN, HidemyIP , cactus VPN, kepard VPN ,और HidemyVPN जैसे tool का इस्तेमाल कर सकते हैं. 

2: आपको Tor वेब ब्राउज़र को डाउनलोड करना होगा जिससे कि आप dark web में safe और सुरक्षित लॉगिन कर पाए.

नोट: Tor वेब ब्राउज़र को हमेशा ऑफिशियल वेबसाइट से ही डाउनलोड करें क्योंकि इंटरनेट में आपको बहुत से नकली वह ब्राउज़र मिल जाएंगे  भारत में आपके लिए समस्या पैदा कर सकती  हैं

3: जैसे ही आपने Tor वेब ब्राउजर को इंस्टॉल कर ले उसके बाद आप को सभी ऐप और प्रोग्राम को बंद कर देना चाहिए जिससे कि आप डार्क वेब में आसनी से crawl सके ।

Dark website को वेबसाइट को सर्च करने के लिए आप चाहे तो Gram search engine का उपयोग कर सकते हैं ये वेब ब्राउजर अन्य वेब ब्राउज़र ओ की तरह ही होता है इसे Google के जैसे इसे specifically designed किया गया है. 

HTML और HTML5 क्या हैं ?

dark web को अपने कंप्यूटर में कैसे एक्सेस करें ?

अगर आप अपने कंप्यूटर में dark web हुए को एक्सेस करना चाहते हैं तो हमने आपको नीचे स्टेप बाय स्टेप बता रखा है कि आप डालते हुए को अपने कंप्यूटर में कैसे एक्सेस कर सकते हैं इन स्थानों को पढ़कर आप अपने कंप्यूटर डिवाइस में dark web एक्सेस कर सकते हैं .

Step 1: आप अपने लिए एक बढ़िया सा VPN service चुने चाहे आप Tor वेब ब्राउज़र का इस्तेमाल कर रहे हो या फिर नहीं आपको एक VPN service का उपयोग अवश्य करना है. आपको अपनी गुमनामी (anonymity) और सुरक्षा का खास करके ध्यान रखना होता है जब आप dark.web चला रहे हो। जब आप vpn सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करने से ये आपको और आपके आईपी ऐड्रेस को ISP और Government agencies   से छुपाती है और साथ में आपके सभी internet usage को  एन्क्रिप्ट कर देती है इसलिए आप की असली पहचान होना लगभग नामुमकिन है।

दूसरा फायदा यह है VPN सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करने से ये आपको हैकर से दूर रखती है जो की आसानी से आपकी पहचान और पर्सनल फाइल अपने कंप्यूटर से चोरी कर सकते हैं इसलिए आप जल्द से जल्द अपने सिस्टम में vpn को डाउनलोड करें

Step 2: Dark web को एक सामान्य ब्राउज़र से नहीं खोला जा सकता जाता हैं जैसे कि =Google, Google chrome । dark net पर एक्सेस पाने के लिए आपको एक डार्क वेब ब्राउजर को डाउनलोड करना होगा जिसे Tor ब्राउज़र बंडल (bundle) भी कहते हैं आप केवल ऑफिशियल TOR का ही इस्तेमाल करें अन्य वेबसाइटों से से इसे डाउनलोड ना करें.

TOR ऑफिशयल वेबसाइट

https://www.torproject.org/download/download.html 

सभी प्रोग्रामों को बंद करके आप Tor ब्राउज़र का इस्तेमाल कर सकते हैं. 

Step 3: TOR Brower bundle को अपने PC (personal computer) में डाउनलोड कंप्लीट हो जाए उसके बाद आप double-click कर सकते हैं डाउनलोड फाइल को और साथ में destination फोल्डर का चुनाव कर सकते हैं और फिर क्लोज करें extract.

Steps:4 उस फोल्डर को ओपन करें जहां आपने Tor ब्राउज़र को extract किया था और उसके बाद double क्लिक करें start ToR Browser. 

इसके बाद आप अपने कंप्यूटर में  dark web का इस्तेमाल कर सकते है।

गूगल सर्च इंजन में ब्लॉग रैकं कैसे बढाये

क्या डार्क वेब को ब्राउज़ खतरनाक हो सकता है कैसे ?

अगर आपको dark web के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं पता तो आपके लिए यह खतरनाक हो सकता है . 

1: virus 

कुछ वेबसाइट आपके डिवाइस को infect कर सकती है वायरस से और बहुत से अलग-अलग प्रकार के वायरस डार्क वेब में  उपस्थित है इसलिए याद रखे  कि ऐसी वेबसाइट से से कभी भी कुछ भी डाउनलोड करना नहीं चाहिए जिसमें आप trust नहीं करते हैं

2:hacker

आपको अपने डिवाइस hackers से  सुरक्षित रखना चाहिए क्योंकि एक बार अगर आपके डिवाइस को हैक कर दिया गया उसके बाद हैकर आपका पर्सनल डाटा चुरा लेंगे और dark web मैं ऐसे बहुत से हैकर फ़ोरम्स हैं । जहां पर आप इन कंप्यूटर हैकर को हायर कर सकते हैं बहुत ही अवैध गतिविधियां करने के लिए । याद रखें कि आपकी सिस्टम को कोई भी आसानी से हैक कर सकता है

3: Webcam hijacking

dark web एक ऐसी वेबसाइट भी है जो  कि एक remote administraton tool हैं जिसे RAT भी कहते हैं अगर आप इसे अपने अपने डिवाइस में इंस्टॉल करते हैं तो उसके बाद हैकर आसानी से Webcam को hijack कर देगा और कैमरा लेंस के जरिए आपकी हर गतिविधियों पर नजर रखेगा.

इसीलिए डार्क बेव में browse करते वक्त कोई पेपर या किसी कपड़े से लेंस के face को ढक सकते हैं जिससे कि हैकर के मनसूबों ऊपर पानी फिर जाएगा।

निष्कर्ष

इस आर्टिकल का उद्देश्य केवल आप तक dark web से जुड़ी जानकारी पहुंचाना है dark web पूरी तरह गैर कानूनी है Best My Smart Tips Blog आपको इसका  इस्तेमाल करने की सलाह नहीं देता कृपया dark web से दूर रहें और खुद को सुरक्षित रखें.

दोस्तों आपको यह आर्टिकल कैसा लगा कमेंट करके बताएं और यदि आपके पास कोई सवाल है तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं ..