नमस्कार दोस्तों। my smart tips ब्लॉग में आपका स्वागत है आज के लेख में हम जानने वाले हैं मशीन लर्निंग क्या होती हैं ? मशीन लर्निंग के क्या फायदे होते हैं ? और मशीन लर्निंग कितने प्रकार की होती है ? इन सब टॉपिको के ऊपर हम बात करेंगे इस आर्टिकल में।

मशीन लर्निंग क्या है ?

दोस्तों आज के दौर में हर फील्ड में कंप्यूटर का उपयोग किया जाता है और आपको पता होगा कि कंप्यूटर के हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर समय-समय पर अपडेट होते रहते हैं। ताकि कार्य सटीक तरीके से और जल्दी पूरा हो जाए।

लेकिन अब ऐसी मशीनें बनने लग गई है जो मनुष्य की तरह सोच पाएंगे और  स्वचालित (automatic) कार्य पूरा कर पाएगी. यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि आने वाला दौर मशीनी युग का होगा। और  मनुष्य अब मशीनों से काम लेने के बारे में नहीं सोचता हैं बल्कि मशीनें अपना काम स्वयं ही अपना काम पूरा कर देती है और आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे मशीन नहीं क्या होता है और इसके फायदे इसलिए आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़ ताकि आपको हर एक जानकारी मशीन लर्निंग के बारे में मिल पाए। ।

गूगल सर्च इंजन में ब्लॉग रैकं कैसे बढाये

मशीन लर्निंग क्या हैं?(What is Machine Learning ?)

मशीन लर्निंग एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेन्स (AI) का एक हिस्सा है क्योंकि सिस्टम यह काबिलियत प्रदान करता है कि वो खुद सीख सके और जरूरत पड़ने पर खुद को अपडेट कर सकें। । 

आसान भाषा में कहा जाए तो कंप्यूटर एल्गोरिथम (कलन विधि) सहायता से मशीन खुद ही सिखाना शुरू कर देती है और समय-समय पर खुद को अपडेट भी करते रहती है इस तकनीक में मशीन को इतना कुशल बनाया जाता है कि वो अगले समय से खुद अपने पिछले अनुभव से सीखकर कार्य को पूरा कर देती हैं ।

दोस्तों किसी सिस्टम या कंप्यूटर को एल्गोरिथम की सहायता से इस तरह प्रोग्राम किया है ताकि वो यूजर के जिज्ञासा के अनुसार जवाब दे सके याा फिर कार्य कर सकें। और इसके साथ ही वह यूजर के कमांड और उससे जुड़े पूरे डाटा को स्टोर कर सके।

दोस्तों मशीन लर्निंग  का मुख्य उद्देश्य ही है की कंप्यूटर बिना किसी इंसान की सहायता के सके और उसके हिसाब से कार्य को पूरा कर सकें।।

मशीन लर्निंग कैसे काम करती है

चलिए आपको यह पता चल गया की मशीन लर्निंग क्या है अब हम यह जानते हैं की मशीन लर्निंग कैसे काम करती है ? मशीन लर्निंग एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेन्स (AI) का एक हिस्सा है ।जोकि computer को मनुष्य के जैसा सोचना सिखाता है उदाहरण के लिए  जैसे कि आप अपने पिछले अनुभवों से सीखते हैं और अपने कार्य को बेहतर तरीके से पूरा करते हैं।

मशीन लर्निंग आमतौर पर डाटा की खोज और पैटर्न की पहचान करके कार्य करता है और इस कार्य को पूरा करने में मनुष्य का कम से कम दखल होता है मनुष्य कुल मिलाकर एक ऐसी मशीन बनाना चाहता है जो जटिल से जटिल कार्य कर सकें जिस कार्यों को करने में मनुष्य को ज्यादा से ज्यादा समय लगता हो।

अगर आपको मशीन लर्निंग कैसे काम करता है क्या पूरा जानना है तो आपको यह जानना आवश्यक है कि मशीन लर्निंग कितने प्रकार की होती है।

मशीन लर्निंग कितने प्रकार होती हैं ?

मशीन लर्निंग एल्गोरिथम के मुख्य रूप से चार प्रकार के होते हैं।

1: supervised Learning 

2:unsupervised Learning

3: semi- supervised Learning 

4: Reinforcement Learning 

SEO क्या हैं ?अपने blog में इसका इस्तेमाल कैसे करें 

supervised  Learning  क्या होती हैं ?

इस प्रकार के एल्गोरिथम (कलन विधि) में मशीन अपने पिछले अनुभवों से जो सिखा हुआ होता है उसे supervised machine Learning नये डाटा लागू करती है ताकि वह पहले से दिए के उदाहरणों का उपयोग करके भविष्य में होने वाली घटनाओं का अनुमान लगा सके।

ये एल्गोरिथम ठीक उसी तरीके से काम करता है जिस तरीके से मनुष्य अपने वास्तव में अपने अनुभव से सीखता है। supervised machine Learning में मशीन को इनपुट के तौर पर विभिन्न प्रकार के उदाहरण तथा जवाब दिए जाते हैं जिससे कि ये एल्गोरिथम इन उदाहरणों से सीखते हैं और इन इनपुट (input) के आधार पर सही आउटपुट (output)का अनुमान लगाती है.

unsupervised machine Learning क्या होता हैं ?

Unsupervised machine Learning में मशीन को इनपुट के तौर पर विभिन्न प्रकार के उदाहरण तथा जवाब नहीं दी जाती बल्कि इस मशीन लर्निंग में  एल्गोरिथम डाटा खुद ही कर स्वयं अनुमान लगाता है। इसलिए ये एल्गोरिथम टेस्ट या फिर से रियल डेटा से सीखते हैं। unsupervised Learning एल्गोरिथम डेटा में समानताओं की पहचान करता है और डाटा के प्रत्येक ने टुकड़े में ऐसी समानताओं की उपस्थिति या  अनुपस्थिति के आधार पर आउटपुट (output) देता है.

semi- supervised Learning  क्या होता हैं

यह एल्गोरिथ्म supervised एल्गोरिथ्म और unsupervised एल्गोरिथ्म के बीच में आता है क्योंकि testing के लिए ये दोनों लेबल्ड और अनलेबल्ड डेटा का इस्तेमाल करता हैं। वह सिस्टम जो इस एल्गोरिथ्म का उपयोग करता है वह आसानी से अपनी लर्निंग योग्यता को समय-समय पर काफी सुधार करने में सक्षम होता है।

Reinforcement Learning क्या होता हैं ?

Reinforcement Learning मशीन लर्निंग एक सीखने की विधि है जो क्रियाओं को प्रकट करके अपने आसपास के वातावरण में बातचीत करता है ट्रायल और त्रुटियों को search निकालना और उनके बारे में पता लगाना है इस एल्गोरिथ्म की खासियत है यह एल्गोरिथ्म मशीन और सॉफ्टवेयर एजेंट को किसी विषय इंग्लिश देशों गतिविधियों को पता लगाने में सहायता करता है ताकि सिस्टम को profomance को बेहतर बनाया जा सके।

ब्लॉगर कैसे बने? पूरी जानकारी

मशीन लर्निंग का इस्तेमाल कहां किया जा रहा है

आज हर क्षेत्र में मशीन लर्निंग का इस्तेमाल किया जा रहा है आज गूगल मशीन लर्निंग का इस्तेमाल करके अपने कई एप्लीकेशन बना रहा है जैसे = Google translate, गूगल लेंस , इन सभी एप्लीकेशनो में मशीन लर्निंग का इस्तेमाल किया गया है।

 मशीन लर्निंग का इस्तेमाल गूगल के अलावा फेसबुक टि्वटर और ई-कॉमर्स वेबसाइटो और ईमेल में होता है ।

मशीन लर्निंग के फायदे क्या है?

मशीन लर्निंग से मनुष्य की जिंदगी काफी आसान हो गई है और मशीन लर्निंग  हर क्षेत्र में किया जा रहा है और मशीनों को कुशल बनाया जा रहा है ताकी मशीनें अपना काम  बेहतर कर सकें।

1:मशीन लर्निंग का इस्तेमाल आज के समय में रिटेल ट्रेड को आसानी से समझकर भविष्य में होने वाली सेल का अनुमान लगाया जा सकता है।

2:इसके साथ ही मशीन लर्निंग का इस्तेमाल फाइनेंस सेक्टर मैं भी हो रहा है किसी कस्टमर को बेहतर और तेज सर्विस उपलब्ध कराई जा रही है। उदाहरण के लिए लेनदेन, सुरक्षा बढ़ाना , फ्रॉड गतिविधियों पर रोक लगाना.

3:हेल्थ सेक्टर में भी मशीन लर्निंग का उपयोग किया जा रहा है , मनुष्य की शारीरिक गतिविधियों द्वारा उनकी बीमारियों का पता लगाने में सहायता मिलती है साथ ही इसमें कम खर्च में स्वास्थ्य सुविधाओं को को बढ़ावा मिलता है

4:गूगल फेसबुक टि्वटर इंस्टाग्राम मैं भी यूजर को मशीन लर्निंग के द्वारा उचित विज्ञापन दिखाते हैं और कंपनी अपने बिजनेस को अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाती हैं।

5:मशीन लर्निंग का इस्तेमाल इंटरनेट में होने वाले धोखाधड़ी को रोकने के लिए भी किया जाता है और आज का इस्तेमाल हर क्षेत्र में किया जा रहा है.

निष्कर्ष

दोस्तों आपको यह लेख कैसा लगा कमेंट करके उसकी बताएं यदि आपके पास कोई सवाल है तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं